Sunday, October 24, 2021

इन 3 तकनीकों की मदद से नैचुरली बढ़ाएं शरीर में ऑक्सीजन लेवल

Must read


Yoga Pranayam Exercise for Oxygen: कोरोना संकट के बीच अधिकतर मौतें ऑक्सीजन के अभाव में हो रही हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि कोविड से प्रभावित मध्यम और तीव्र लक्षणों वाले लोगों को सांस लेने में कठिनाई महसूस हो रही है। वर्तमान समय में हेल्दी शरीर के लिए जिन दो चीजों की अति आवश्यकता है वो हैं मजबूत इम्युनिटी और श्वसन तंत्र का बेहतर कार्य करना। इस बीच सरकार ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल mygovindia से एक वीडियो साझा किया है जिसके कैप्शन में लिखा है कि देखें किस तरह योग शरीर में ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने में मददगार है।

#IndiaFightsCorona और #Unite2FightCorona जैसे हैशटैग को शेयर करते हुए इस वीडियो में योग शिक्षक आचार्य प्रतिष्ठा लोगों से बातें करतीं नजर आ रही हैं। वीडियो में वो कह रही हैं कि 3 तकनीकों को जानकर शरीर में प्राकृतिक रूप से ऑक्सीजन लेवल को बढ़ाया जा सकता है।

आचार्य प्रतिष्ठा के अनुसार जब लोग घबराए या चिंतित होते हैं तब उनकी सांस बहुत तेज गति में चलती है, इससे उनकी सांस लेने की क्षमता प्रभावित होती है और उन्हें इसके लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है। वो आगे बताती हैं कि बीमारी लोगों को ज्यादा एंग्जायटी होती है जिस वजह से वो छोटी सांस लेते हैं।

उन्होंने आगे कहा है कि लोगों को सबसे पहले शांत मन के साथ बैठकर हाथों को ज्ञान मुद्रा में लेकर सांस भरें। वो बताती हैं कि लंबी सांसे नहीं भरनी हैं, लंबा प्रणवोच्चारण न करके इसे सुगम ही रखना है। अब ओम् की आवाज निकालें और सांस छोड़ते हुए फेफड़ों, मस्तिष्क और शरीर को रिलैक्स करें। इस अभ्यास को तीन बार दोहराएं।

अब पेट के बल लेट जाएं और बालासन का अभ्यास करें। इसके तहत बाएं हाथ को पूरी तरह सीधा करें और बायां पैर भी सीधा रखें। गर्दन को दायीं ओर घुमाएं। दायां हाथ और पैर को 90 डिग्री पर रखें। गहरी सांस लें और छोड़ें, इस अवस्था में 5-7 मिनट तक गहरी सांस लेकर छोड़ें। फिर अपनी स्थिति बदलकर दूसरे हाथ-पैर को 90 डिग्री पर रखकर गहरी सांस लें और 5-7 मिनट तक इसे दोहराएं।

प्रतिष्ठा कहती हैं कि इसके बाद तीसरे स्टेप में पेट के बल ही लेटे रहें और हथेलियों को सीने के पास कंधों के नीचे रखें। अब सांस भरते हुए चेहरे को ऊपर उठाएं और जितना हो सके छाती को फैलाएं। साथ ही, पीछे की ओर शरीर के ऊपरी हिस्से को धक्का दें यानी पीछे झुकने की कोशिश करें। फिर सांस छोड़ते हुए बेहद सुगमता से धीरे-धीरे वापस आ जाएं। इस अभ्यास को तीन बार करें।

अब इसके बाद अपने हाथों का तकिया बनाएं और पैरों को खोलें। फिर इस अवस्था में गहरी सांस लें। आराम से जितनी देर इस अवस्था में लेट सकते हैं, उतनी देर रहें।



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई






Source link

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article