Thursday, October 28, 2021

बेहतर Immunity के लिए रोज पीयें नींबू-पानी, जानें दूसरे हैरान कर देने वाले फायदे

Must read


Immunity Boosting Tips: गर्मियों में शरबत-शिकंजी पीना सभी को अच्छा लगता है, ये न केवल बॉडी को हाइड्रेटेड रखता है, बल्कि उसे ठंडक भी प्रदान करता है। नींबू पानी एक ऐसा ही ड्रिंक है जिसे पीना लगभग सभी को पसंद होता है। फिर बात चाहे सुबह-सवेरे इसे पीने की हो या फिर गर्मी कम करने के लिए दोपहर में इसकी चुस्कियां लगाने की, नींबू-पानी पीने से लोग ताजगी महसूस करते हैं। इसे ठंडा-गर्म, मीठा या नमकीन कई तरीकों से पीया जा सकता है। नींबू-पानी पीने के कई स्वास्थ्य फायदे भी हैं। आइए जानते हैं –

बेहतर होती है इम्युनिटी: नींबू में प्रचुर मात्रा में विटामिन-सी पाया जाता है, साथ ही इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट्स भी पाए जाते हैं। ये एंटी-ऑक्सीडेंट्स फ्री रैडिकल्स के प्रभाव को शरीर में कम करते हैं। इससे शरीर के इम्युन सिस्टम को विकसित करने में मदद मिलती है। कोरोना वायरस के इस दौर में मजबूत इम्युनिटी बेहद जरूरी है। रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए लोग तमाम कोशिशें करते हैं। सिर्फ कोविड से बचने में ही नहीं, बल्कि संपूर्ण स्वास्थ्य को बरकरार रखने के लिए इम्युनिटी का स्ट्रॉन्ग होना जरूरी है।

दूर होंगी पाचन की दिक्कतें: गर्म नींबू पानी में लैक्सेटिव प्रॉपर्टीज होते हैं, स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि गर्म पानी में नींबू मिलाकर पीने से मल त्याग करने में मदद मिलती है। इससे पाचन दुरुस्त रहती है। बेहतर पाचन शरीर को विषाक्त पदार्थों से दूर रखता है। साथ ही, जरूरी विटामिन और मिनरल्स को एब्जॉर्ब करने में भी मदद मिलती है। इसलिए स्वास्थ्य विशेषज्ञ जो लोग कब्ज, पेट फूलने अथवा अपच से परेशान रहते हैं, उन्हें सुबह उठते ही एक गिलास गर्म नींबू पानी पीना चाहिए।

स्किन के लिए फायदेमंद है: नींबू में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स स्किन को ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस से बचाने में मददगार है। इससे चेहरे पर दिखने वाले बढ़ती उम्र के निशान दूर हो जाते हैं। फाइन लाइन्स जल्दी नजर नहीं आते, साथ ही इसे पीने से स्किन हाइड्रेटेड रहता है जिससे चेहरे पर निखार आता है।

वजन पर संतुलन बनाने में मददगार: कई लोग नींबू पानी का सेवन इसलिए भी करते हैं क्योंकि ये वजन कम करने में सहायक है। इसमें मौजूद लिक्विड की मात्रा पेट को अधिक देर तक भरा-भरा रखता है। ऐसे में लोगों के शरीर में कैलोरीज बेहद कम मात्रा में पहुंचती हैं। साथ ही, इससे मेटाबॉलिज्म बढ़ाने में भी मदद मिलती है।



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई




Source link

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article