Sunday, October 24, 2021

मुंह से बदबू आना इन गंभीर बीमारियों का हो सकता है संकेत, जानिये

Must read


मुंह से बदबू आने की समस्या कुछ लोगों के लिए बेहद ही शर्मनाक बन जाती है। जिन लोगों के मुंह से दुर्गंध आती है, उनसे लोग दूर भागने लगते हैं। इसकी वजह से लोगों के कॉन्फिडेंस लेवल में भी कमी आने लगती है। साथ ही दूसरों से बात करने में हिचकिचाहट महसूस होती है। मेडिकल टर्म में मुहं की बदबू को हेलिटोसिस कहा जाता है। यह समस्या कैविटी, मसूड़ों में सूजन, दांतों पर खाने के बचे अवशेष, दांत और जीभ पर जमा प्लाक और बैक्टीरिया के कारण होती है।

लेकिन कई मामलों में मुंह की बदबू गंभीर बीमारी का संकेत देती है। अगर दिन में दो बार ब्रश और घरेलू उपायों का इस्तेमाल करने पर भी मुंह की दुर्गंध से छुटकारा नहीं मिल पा रहा है तो यह डायबिटीज और किडनी की बीमारी का संकेत हो सकता है।

डायबिटीज: मुंह से दुर्गंध आना, डायबिटीज यानी मधुमेह की बीमारी के शुरुआती लक्षण होते हैं। मधुमेह की बीमारी में मसूड़ों से जुड़े रोगों का जोखिम बढ़ जाता है, जिसके कारण मुंह से दुर्गंध आती है। डायबिटीज से ग्रसित लोगों के मुंह से एसिटोन जैसी बदबू आती है। जब खून में कीटोन का स्तर बढ़ने लगता है, तब यह दुर्गंध आती है। बता दें, कीटोन में एसिटोन नामक तत्व होता है, जिसका इस्तेमाल नेल पॉलिश रिमूवर में भी किया जाता है।

लिवर की बीमारी: लिवर खून में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखता है। लेकिन जब लिवर ठीक से काम नहीं करता तो खून में शुगर की मात्रा बढ़ने लगती है, जिससे ब्लड स्ट्रीम में टॉक्सिन बन जाते हैं। इसी के कारण मुंह से दुर्गंध आती है।

किडनी: मुंह से बदबू आने का कारण किडनी की बीमारी भी हो सकती है। दरअसल, किडनी बॉडी में यूरिया को फिल्टर करती है। लेकिन जब वह ऐसा करने में असमर्थ हो जाती है तो खून में यूरिया का स्तर बढ़ने लगता है। जिसके कारण सांसों से बदबू आनी शुरू हो जाती है। किडनी की बीमारी में मुंह सूखने की समस्या भी होती है।

फेफड़ों में इंफेक्शन: फेफड़ों में जब इंफेक्शन हो जाता है तो बलगम बाहर नहीं निकल पाता, इसके कारण सांसों से बदबू आने की समस्या होने लगती है।



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई




Source link

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article