Thursday, October 21, 2021

सुप्रीम कोर्ट ने व्हाट्सएप से कहा, निजता पैसों से ज्यादा जरूरी

Must read

सुप्रीम कोर्ट ने व्हाट्सएप से कहा, निजता पैसों से ज्यादा जरूरी

WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर चल रहे विवाद के बीच सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को व्हाट्सएप को फटकार लगाई। कोर्ट ने फेसबुक और व्हाट्सएप से कहा कि आप 2 या 3 ट्रिलियन की कंपनी होंगे। मगर लोग अपनी निजता की कीमत इससे ज्यादा मानते हैं और उन्हें ऐसा मानने का हक है।

चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (CJI) ने Facebook और WhatsApp को नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर नोटिस जारी किया है। इस नोटिस में कहा कि यूजर की प्राइवेसी को सुरक्षित रखा जाना जरूरी है। सुप्रीम कोर्ट के नोटिस के जवाब में फेसबुक और व्हाट्सएप को यह बात साफ करनी होगी कि यूजर्स का किस तरह का डेटा शेयर किया जा रहा है और किस तरह का डेटा शेयर नहीं किया जा रहा।

सुप्रीम कोर्ट ने प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर यूरोप और भारत में अलग अलग पैमानों को लेकर भी नाराजगी जताई है। इस मामले की अगली सुनवाई अब चार सप्ताह के बाद होगी।

व्हाट्सएप की लोकप्रयिता घट रही है
व्हाट्सएप (WhatsApp) की नई प्राइवेसी पॉलिसी का ऐलान 5 जनवरी को किया गया था, उसके बाद से कई लोगों ने सोशल मीडिया पर इसके खिलाफ गुस्सा जाहिर किया। साथ ही तब से लेकर अब तक दूसरे इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप जैसे टेलीग्राम और सिग्नल ऐप की लोकप्रियता में इजाफा हुआ है और व्हाट्सएप की लोकप्रयिता पर भी अंकुश लगा है।

व्हाट्सएप राइट टू प्राइवेसी के उल्लंघन का आरोप
WhatsApp पर नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर भारतीय नागरिकों के ‘राइट टू प्राइवेसी’ के अधिकार का उल्लंघन करने का आरोप लग रहा है। अभी Whatsapp ने New Privacy Policy को 15 मई 2021 तक के लिए टाल दिया है।



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई




Source link

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article