Thursday, October 28, 2021

हड्डियों में तेज दर्द हो सकता है विटामिन-डी की कमी का संकेत, जानें शरीर के लिए क्यों जरूरी है?

Must read


Vitamin D For Health: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच इम्युनिटी बूस्ट करना आवश्यक है। कोविड-19 के लक्षणों में से एक बदन में दर्द भी है। हालांकि, हड्डियों या मांसपेशियों में दर्द विटामिन-डी की कमी से भी हो सकता है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सभी पोषक तत्वों की पूर्ति जरूरी है। विटामिन्स भी इन्हीं जरूरी न्यूट्रिएंट्स में से एक है जिनके सेवन से शरीर के सभी हिस्से स्वस्थ रहते हैं। ऐसा ही एक विटामिन है, विटामिन डी जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के साथ ही हड्डियों को मजबूत रखने में भी मददगार है।

धूप को विटामिन-डी का नैचुरल सोर्स कहा जाता है, इसलिए स्वास्थ्य विशेषज्ञ लोगों को करीब आधे घंटे धूप में बैठने की सलाह देते हैं। लेकिन गर्मियों में सूर्य की किरणों का सामना करना मुश्किल हो सकता है। ऐसे में कुछ फूड्स के जरिये भी इस विटामिन की कमी को पूरा किया जा सकता है। आइए पहले जानते हैं शरीर के लिए विटामिन डी क्यों जरूरी है –

इसलिए शरीर के लिए विटामिन-डी जरूरी है: माना जाता है कि ओवरॉल हेल्थ को मेंटेन करने के लिए विटामिन-डी जरूरी होता है। थकान, कमजोरी, शरीर के प्रमुख हिस्सों में दर्द को दूर करने में विटामिन-डी सहायक है। इस विटामिन को ऊर्जा का स्रोत भी माना जाता है। वहीं, शरीर में इस विटामिन की कमी से लोगों की इम्युनिटी कमजोर हो जाती है जिससे लोग अक्सर बीमार रहने लगते हैं। साथ ही, ये विटामिन कैल्शियम को एब्जॉर्ब करने में मदद करता है। इससे हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत रहती हैं।

कोरोना काल में जरूरी है ये विटामिन: विटामिन डी शरीर में वाइट ब्लड सेल्स को मॉड्यूलेट करता है जिससे बॉडी को हेल्दी रखने में मदद मिलती है। एक शोध के अनुसार जिन देशों में विटामिन डी की कमी थी, वहां कोरोना वायरस से होने वाली मौतों की संख्या अधिक थी। शोधकर्ताओं के अनुसार इन देशों में मृत्यु दर इतना अधिक इसलिए था क्योंकि दक्षिणी यूरोप में लोग, खासकर बुजुर्ग सूरज की रोशनी में नहीं बैठते हैं। वहीं, स्किन पिगमेंटेशन भी शरीर में प्राकृतिक रूप से विटामिन डी को बनने से रोकती है।

इन फूड्स से करें कमी को दूर: मशरूम, सीफूड्स, मिल्क प्रोडक्ट्स, संतरा का जूस, बादाम, दूध-दही, सोया उत्पाद और अंडा विटामिन डी से भरपूर माना जाता है।



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई




Source link

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article