Sunday, October 24, 2021

BMW से लेकर लैंबोरगिनी तक, आकाश अंबानी के काफिले में शामिल हैं ये करोड़ों की गाड़ियां

Must read


Akash Ambani: दुनिया के टॉप-10 अमीरों में शुमार उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) अपनी कार कलेक्शन के लिए भी जाने जाते हैं। बताया जाता है कि उनके घर एंटीलिया में शुरुआती मंजिलों में केवल गाड़ियां पार्क करने के लिए गराज ही बनाए गए हैं। अंबानी परिवार के काफिले में तकरीबन 170 गाड़ियां हैं। पिता की तरह ही आकाश अंबानी को भी गाड़ियों का बेहद शौक है। आइए जानते हैं शादीशुदा व एक बेटे के पिता आकाश अंबानी से जुड़ी खास बातें –

करोड़ो की गाड़ियों के हैं मालिक: जीक्यू इंडिया की खबर के अनुसार आकाश को अक्सर छोटे भाई अनंत के साथ अपनी हरी रंग बेंटले बेंटायगा में देखा जाता है। इसकी कीमत करीब 3 करोड़ 85 लाख के आसपास बतायी जाती है। इसके अलावा, उनके पास एक निजी रेंज रोवर वोग भी है जो 2 करोड़ से लेकर 4.19 करोड़ में खरीदा जाता है।

वहीं, आकाश को बहन ईशा के साथ उनकी बीएमडब्ल्यू 5-सीरीज में भी देखा जा चुका है। खबरों के मुताबिक आकाश अंबानी के पास लैंबोरगिनी भी है जिसकी कीमत करीब सवा 3 करोड़ से लेकर पौने चार करोड़ के बीच आंकी गई है।

ऑफिस में संभालते हैं ये जिम्मेदारी: बिजनेस टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक मुकेश अंबानी के बड़े बेटे आकाश निदेशक और स्ट्रैटजी हेड हैं। साथ ही, वो रिलायंस जियो के एक्जिक्यूटिव कमिटी का हिस्सा भी हैं। साल 2014 में उन्होंने और ईशा अंबानी ने साथ में ही कंपनी जॉइन किया था। इसके अलावा, प्रोडक्ट डेवलपमेंट और रिलायंस जियो के दूसरे डिजिटल सर्विसेज एप्लीकेशंस की देखरेख में भी आकाश की भूमिका अहम है।

कितने पढ़े-लिखे हैं आकाश: शुरुआती पढ़ाई मुंबई के धीरूभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल से पूरी करने के बाद आगे की पढ़ाई के लिए आकाश अमेरिका चले गए। वहां के ब्राउन यूनिवर्सिटी से साल 2013 में उन्होंने बिज़नेस-कॉमर्स में ग्रैजुएशन किया है।

क्रिकेट में है दिलचस्पी: क्रिकेट के शौकीन आकाश आईपीएल में मां नीता अंबानी के साथ टीम के मैनेजमेंट मीटिंग में शामिल होते रहते हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने साल 2008 में अपनी टीम मुंबई इंडियंस की क्रिकेट किट डिजाइन करने में भी दिलचस्पी जताई थी। इसके अलावा, फुटबॉल के इंडियन सुपर लीग में भी वो शामिल हैं।

IVF तकनीक से जन्में हैं आकाश: नीता अंबानी ने एक इंटरव्यू में बताया था कि 23 साल की उम्र में ही एक जांच के बाद उन्हें डॉक्टर ने बताया था कि वो कभी गर्भधारण नहीं कर पाएंगी। इसके बाद आईवीएफ तकनीक के जरिये वो मां बनीं और आकाश व ईशा का जन्म हुआ।






Source link

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article